Sunday, 16 February 2020

होली पर कविताएँ | Poem on Holi in Hindi

हमारा भारत देश त्यौहारों का देश है, जहाँ कई प्रकार के त्यौहार बड़ी धूम-धाम से मनाए जाते है। यही त्यौहार ही हम सब भारत वासीयों को प्रेम और भाईचारे के साथ रहना और साथ-साथ चलना सिखाते है। होली हो या दिवाली, ईद हो या बैसाखी और ईस्टर हो या दशलक्षण पर्व, यह सब त्यौहार हम सबको सौहार्द और आपस में भाईचारे का पाठ सिखाते है।

आज हम होली जैसे महत्वपूर्ण त्यौहार का अद्भुत वर्णन करते हुए आपके समक्ष लेकर प्रस्तुत हुए है कुछ होली पर कविताएँ। हमें आशा है कि आप सबको इन कविताओं के जरिये होली के रंगों का महत्त्व आसानी से समझ आ सकेगा।

होली पर कविताएँ | Poem on Holi in Hindi


Poem on Holi in Hindi, Holi Par Kavita, होली पर कविताएँ
Poems on Holi in Hindi

Poem on Holi in Hindi


होली आई रे!

सतरंगी रंगों से रंगने,
मन के सारे द्वेष को हरने,
सबके दिलों को अपना करने,
रंगीली होली आई रे!

देने होठों को सुनहरी मुस्कान,
देने प्रेम के नए खज़ाने,
जीवन को ख़ुशियों से महकाने,
मस्तानों की होली आई रे!

भूले-बिसरे यार मिलाने,
मन से मन का बैर मिटाने,
एक नया संसार बसाने,
ख़ुशियों की होली आई रे!

बोली में मिठास घोलने,
टूटे दिलों के तार जोड़ने,
आशाओं के नव द्वार खोलने,
नवरंगो की होली आई रे!
- निधि अग्रवाल

Holi Par Kavita | होली पर कविता


होली का त्यौहार

लेकर रंगों की बौछार,
आया होली का त्यौहार।
भरने दिलों में सबके खुशियाँ,
और ढेर सारा प्यार,
आया होली का त्यौहार।

सतरंगी रंगों से रंग गए,
ये धरती और आकाश।
चहुँ ओर उड़े गुलाल,
हर मन में है उल्लास।
सौहार्दय के रंग से भरा है,
ये होली का त्यौहार।

गुझिया से भी मीठी है बोली,
देखो कितनी रंगीली है होली।
मस्तानों की लेकर टोली,
करते है सब खेल ठिठौली।
सब पर है छाया, देखो! गज़ब सा ख़ुमार,
आया होली का त्यौहार।
- निधि अग्रवाल

हमें आशा है कि आप सभी को यह Poems on Holi in Hindi अवश्य पसंद आयी होंगी। यह कविताएँ कक्षा 1 से लेकर कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों के लिए उनके गृह कार्य में सहायता देंगी और होली जैसे पावन त्यौहार की विशेषता समझाने में मदद करेंगी।
EDITED BY- Somil Agarwal

No comments:

Post a comment

Most Recently Published

वर्षा ऋतु पर कविताएँ | Poem on Rainy Season in Hindi

मौसम चाहें गर्मी का हो या सर्दी का, वसंत ऋतु हो या वर्षा ऋतु। हम सभी को अलग-अलग ऋतुएँ खूब भाती है। भारत में चार मुख्य ऋतुओं में वर्षा ऋतु ए...